संस्‍थान का मुख्‍य उद्देश्‍य चुंबक से बंधित प्‍लाज्‍़मा एवं प्‍लाज्‍़मा में अरेखीय परिघटना के क्षेत्र में मौलिक एवं अनुप्रयुक्‍त अध्‍ययनों में उन्‍नति एवं नेतृत्‍व करना है।
संस्‍थान में वैज्ञानिकों एवं इं‍जीनियरों को भौतिकी के क्षेत्र में प्रशिक्षित करने के लिए कई शैक्षिक कार्यक्रम आयोजित होते हैं।
शैक्षिक कार्यक्रम
भर्ती विज्ञापन शैक्षिक कार्यक्रम (संपर्क: acadcomm at ipr dot res dot in)

पीएच.डी कार्यक्रम:
इस कार्यक्रम के अंतर्गत जिन छात्रों ने एम.एससी (भौतिकी/अनुप्रयुक्‍त भौतिकी) की पढ़ाई पूरी कर ली हैं, लिखित परीक्षा के बाद व्‍यक्तिगत साक्षात्‍कार के आधार पर उनका चयन किया जाता है। यह चयन प्रक्रिया लगभग जून महीने में होती है।
शोधार्थियों के लिए फेलोशिप दरें पहले और दूसरे वर्ष के लिए 16,000 रुपये और उसके बाद के वर्षों के लिए 18,000 रुपये हैं।
संस्‍थान में शोधार्थी के रूप में काम कर रहे चयनित उम्‍मीदवारों को संस्‍थान की शैक्षिक समिति द्वारा निर्धारित किये गये पाठ्यक्रम के अनुसार अध्‍ययन करना होता है। शोधार्थी पीएच.डी डिग्री के लिए संस्‍थान के फैकल्‍टी सदस्‍य की देखरेख में एक अनुसंधान परियोजना पर कार्य करता है। यह प्रोग्राम सामान्‍यत: पाँच वर्षों के लिए चलता है और इसके सफलतापूर्वक समापन के पश्‍चात् योग्‍य उम्‍मीदवारों को नियम के अनुसार संस्‍थान में पदों के लिए प्रस्‍ताव दिया जा सकता है।  
अनुसंधान के क्षेत्र:
संस्‍थान में अनुसंधान के क्षेत्रों में प्रायोगिक और सैद्धांतिक भौतिकी की व्‍यापक श्रेणी के विषय सम्मिलित हैं।
संस्‍थान उच्‍च प्रौद्योगिकी के क्षेत्रों में कार्य करने के लिए आकर्षक अवसर और उत्‍कृष्‍ट सुविधाएँ प्रदान करता है, जैसे कि 
विशाल अति उच्‍च निर्वात प्रणालियाँ
  • स्‍पैक्‍ट्रोस्‍कोपी, mm-तरंग, दृश्‍य, UV एवं एक्‍स-रे
  • लेसर प्रेरित प्रतिदीप्ति
  • बोलोमेट्री
  • एक्‍स-रे/दृश्‍य टोमोग्राफी
  • नाभिकीय संसूचन तकनीकियाँ
  • व्‍यतिकरणमापी (इंटरफेरोमेट्री)
  • इलेक्‍ट्रॉन साइक्‍लोट्रॉन उत्‍सर्जन
  • परमाणु एवं आण्विक भौतिकी, आवेश विनिमय, बहु आयनन, पुन:संयोजन स्‍पैक्‍ट्रोस्‍कोपी आदि।
  • सतह प्‍लाज्‍़मा अंत:क्रियाएँ
  • उच्‍च-वोल्‍टेज एवं उच्‍च-विद्युत धारा स्‍पंदित शक्ति प्रणालियाँ
  • परिष्‍कृत नियंत्रण, निगरानी एवं डाटा अधिग्रहण प्रणालियाँ।
प्रयोग:
परिवहन(कण एवं ऊर्जा)
  • विदारण
  • अस्थिरताएँ
  • अरेखीय परिघटना
  • विद्युत धारा तंतुओं में संरक्षित चुंबकीय ऊर्जा का उत्‍पादन एवं विनाश
  • डस्‍टी प्‍लाज्‍़मा एवं कूलांब क्रिस्‍टल
  • कण त्‍वरण
  • सापेक्षिकीय इलेक्‍ट्रॉन पुंज
  • नॉन-न्‍यूट्रल प्‍लाज्‍़मा
सिद्धांत:
सामूहिक परिघटना
  • विषम और क्‍लासिकल ट्रांसपोर्ट
  • अरेखीय परिघटना (प्‍लाज्‍़मा भौतिकी, बहु-पिंड सिद्धांत, सांख्यिकीय यांत्रिकी, द्रव गतिशीलता, क्‍वांटम क्रोमोडायनामिक क्षेत्र के सिद्धांत, प्‍लाज्‍़मा खगोल भौतिकी आदि संकल्‍पनाएँ शामिल हैं), अव्‍यवस्‍था और विक्षोभ
  • डस्‍टी प्‍लाज्‍़मा
  • मुक्‍त इलेक्‍ट्रॉन लेसर
  • कंप्‍यूटर सिमुलेशन
पोस्‍टडॉक्‍टरल फेलोशिप:
संस्‍थान पोस्टडॉक्‍टरल पदों के लिए प्रस्‍ताव देता है। योग्‍य उम्‍मीदवारों को आवेदन करने के लिए प्रोत्‍साहित किया जाता है।
तकनीकी प्रशिक्षण कार्यक्रम:
संस्‍थान प्‍लाज्‍़मा विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी में सक्षम वैज्ञानिकों एवं इं‍जीनियरों को प्रशिक्षित करता है एवं उन्‍हें कार्य में सम्मिलित करता है। इस कार्यक्रम के अंतर्गत वे छात्र जिन्‍होंने एम.एससी (भौतिकी/अनुप्रयुक्‍त भौतिकी), बी.ई (कंप्‍यूटर/इलेक्‍ट्रीकल/कम्‍यूनिकेशन/इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स/इंस्‍ट्रूमेंटेशन/ मैकेनिकल) की पढ़ाई पूरी की है, लिखित परीक्षा और उसके बाद साक्षात्‍कार द्वारा उनका चयन किया जाता है, जो कि प्राय: जून महीने में होता है। साक्षात्‍कार में उपस्थित होने के लिए निकटतम रेलवे मार्ग से आने और जाने का दूसरी श्रेणी का किराया दिया जाता है।
चयनित उम्‍मीदवार जो संस्‍थान में तकनीकी प्रशिक्षार्थी के रूप में कार्य भार ग्रहण करता है, उसे पाठ्यक्रम का एक सेट और परियोजना कार्य दिया जाता है। इस प्रशिक्षण की अवधि एक वर्ष है। सफलतापूर्वक प्रशिक्षण पूरा करने के बाद उन्‍हें नियमित नियुक्ति का प्रस्‍ताव दिया जाता है। प्रशिक्षण की अवधि के दौरान प्रशिक्षणार्थियों को होस्‍टल आवास के साथ प्रति महीने 5400 रुपये की वृत्ति मिलती है।
ग्रीष्‍मकालीन स्‍कूल कार्यक्रम:
यह छ: सप्‍ताह का एक कार्यक्रम है,, जिसके अंतर्गत चयनित छात्रों के समूह को संस्‍थान के वैज्ञानिकों के साथ परस्‍पर विचार-विमर्श करने एवं एक परियोजना और व्‍याख्‍यानों की श्रृंखला के माध्‍यम से भौतिकी एवं तकनीकी के विभिन्‍न अनुसंधान उपकरणों के बारे में सीखने का अवसर मिलता है। 
एम.एससी/बी.ई./बी.टेक(भौतिकी एवं तकनीकी) के छात्र इस कार्यक्रम के लिए आवेदन करने के पात्र है। प्रतिभागियों को एक समेकित वृत्ति 10,500 रुपये प्राप्‍त होती हैं। आने और जाने का तीसरी श्रेणी का निकटतम रेलवे मार्ग का किराया और नि:शुल्‍क हॉस्‍टल आवास(सीमित सीटें उपलब्‍ध हैं) दिया जाता है।
ग्रीष्‍मकालीन स्‍कूल कार्यक्रम 2018
भर्ती:
आवश्‍यकता अनुसार और रिक्तियों के सृजन के आधार पर इंजीनियरों और वैज्ञानिकों की  प्रत्‍यक्ष भर्ती की जाती है। विभिन्‍न पदों के लिए लोकप्रिय समाचार पत्रों एवं/रोजगार समाचार में विज्ञापन दिये जाते हैं।